यूं ही जीवन में दिन रात संग चले,

जीवन में सभी को मिले खुशी अपार,

आप सभी को शुभ प्रभात. ??
हर दिन आती है नयी ओर सुहानी सुबह, झूमता है दिल और गाता है गाना, खुशी के इस दिन पर तुम बस मुस्कुराना, और अपने आने वाले कल के लिए सपने सजाना. शुभ प्रभात ..open
आज के दिन ज़िंदगी के प्रति वफ़ादार रहना, और निसंकोच सब को दिल से प्रेम करना, आपको बहुत आगे ले जाएगी. ..open
मेहकते फूलो की ख़स्बो, लहराती फ़िज़ों का आनंद, उड़ते पंछी का होसला, आज के सुबह तुम देख लो. सुप्रभात. ..open

सपनो के जहाँ से अब लौट आऔ, हुई हे सुबह अब जाग जाओ, चांद – तारों को अब कह कर अलविदा, इस नए दिन की खुँशियों मे खो जाओ ! ..open
किसी ने मुझे कहा की, तुम हर रोज सुबह सुप्रभात, करके सबको याद करते हो, तो क्या वो भी तुम्हे याद करते है, मेंने कहा मुझे रिश्ता निभाना है, मुकाबला नहीं करना ..open
फूलो की तरह खिलते रहो, सूरज की तरह चमकते रहो, और सारा दिन आप हँसते रहो. ..open

Sunday ki धूप. Sunday ki किराने, Sunday ka अलासपन, Sunday ki कोफ़ी, उफ़्फ़्फ… बड़ी मीठी लगती हैं रे. Good Morning. ..open
इस नयी सुबह से हमें कुछ सीखना हैं, आज हमारे अपनो को एक ही धागे में हमारे साथ बूँदना हैं, और जीवन को सफल बनाना हैं, सुप्रभात, आप सभी मित्रो को नमस्कार, आज का दिन आप सभी के लिए स्फूर्ति और प्रसन्नता से भरा रहे. शुभ प्रभात ..open
कभी हिम्मत न हारे, जिंदगी में खत्म होने जैसा कुछ भी नही होता, हमेशा एक नया दिन आपका इंतज़ार कर रहा हैं. ..open

नींद आती है सपने लेकर, हमारी दुआ है, आज की सुबह आये आपके लिए ढेर सारी खुशियाँ लेकर, Good Morning, Have a Nice Day ..open
रात आती है सुनहरे सपनों के साथ, सुबह होती है उजली किरणों के साथ, दुआ है इन किरणों के साथ, सुनहरे सपने भी पूरे हों आज. ..open
हे! सूर्य देव, मेरे अपनो को यह पैगाम देना; खुशियों का दिन हँसी की शाम देना; जब कोई पढे प्यार से मेरे इस पैगाम को; तो उन को चेहरे पर प्यारी सी मुस्कान देना। ..open

आपका और हमारा हर दिन शुभ हो – प्रतिदिन , प्रतिपल प्रभु की कृपा बनी रहे और जीवन सार्थक हो जाये. ..open
नन्हें नन्हें फूल भी देखों सुबह-सुबह कैसे मुस्कुराहते है, ऐसे ही आपकी सुबह भी मुस्कुराहट से खील उठे. ..open
हर सुबह अपने बड़ों का, आशीर्वाद, प्रेम और स्नेह, का उपहार पाने वाले का, दिन हमेशा सफल होता हैं. ?? ..open

ज़िन्दगी को “आसान” नहीं, बस खुद को “मजबूत” बनाना पड़ता है, उत्तम समय कभी नहीं आता, समय को उत्तम बनाना पड़ता है, सुप्रभात आपका दिन शुभ और मंगलमय रहे. ..open
जब आसमान की ऊँचाई छूनी हो, हर रोज सुबह बुजुर्गो के पैर छु के घर से निकलो, कही ना कही मंजिल मिल ही जानी हे. ..open
सूरज कोई उम्मीद रखे बिना रोशन करता है, और खुद जलता रहता है इसलिए हमारा फ़र्ज़ है, कि हम भी सूरज की तरह दुसरों की ज़िन्दगी रोशन करें ..open

हर सुबह मंज़िलो का रास्ता नज़दीक हो जाता हैं, जब हम अपनो का आशीर्वाद और, प्यार साथ में लेकर निकलते हैं. ..open
मन में हमेशा अच्छे विचार और, अच्छे अहसासों को ही जगह दीजिए, ताकि दिमाग में सदा पॉजिटिव, तरंगों का उदय हो. सुप्रभात शुभ दिन हो. ..open

अपनी राय अवश्य दे X